Sant Asharam Bapu - परदे के पीछे का सच जो किसी मीडिया ने समाज तक नही पहुँचाया

पहले भोलानंद‬ गुप्ता जो कभी संत आसाराम बापू के खिलाफ षड़यंत्रकारियों का शिकार बना हुआ था उसका सनसनीखेज खुलासा और उसके बाद जम्मू पुलिस द्वारा पकड़ा गया सतीश_वाधवानी‬

भोलानंद ने काफी समय से अनेक चैनलों के कार्यक्रमों में यह कहकर सनसनी फैला दी थी कि भगवती नगर जम्मू स्थित संत आशारामजी आश्रम में बच्चों के शवों को दफनाया गया है. भोलानंद के इस बयान के आधार पर ऑल इंडिया किसान सेवा संघ के प्रदेश प्रधान डॉ. राज कुमार चौधरी ने कोर्ट में अर्जी दायर कर पुलिस को इस आरोप की जांच करवाने की मांग की थी.

भोलानंद ने बताया क़ि षड़यंत्रकारी लोगों ने मुझसे कहा था कि ‘‘गुप्ताजी, अगर आप कहीं फँसते हो या आशारामजी बापू का केस पॉजिटिव होता दिखे तो हम एक-दूसरे को गोली मार देंगे या चाकू से वार कर देंगे, ऐसा कुछ करेंगे अथवा करवाएंगे। ऐसा करके हम केस बनाकर बापू पर डालेंगे और मीडिया द्वारा देश भर में हल्ला करवा देंगे जिससे लोगों को भी ये लगेगा क़ि बापू अंदर बैठे बैठे सब करवा रहे है। हम किसी भी कीमत पर बापू को बाहर नही आने देंगे ।

 

क्या आपको पता है क़ि आशारामजी बापू ने खुद उनके विरुद्ध गवाही देने वालो को कड़ी सुरक्षा देने के लिए कोर्ट में 'एप्लीकेशन दी हुई है।

 


अगर उनको गवाहों को मारना होता तो उनकी कड़ी सुरक्षा लिए कोर्ट में एप्लीकेशन क्यों डालते ? और गवाह जिन्दा रहेंगे तो संत आशारामजी बापू को ही फायदा है क़ि बाद में वो भोलानंद और ‪#‎सुधा_पटेल‬ की तरह बता सकेंगे क़ि किसके दबाब में आकर उन्होंने आशारामजी बापू के विरुद्ध में गवाही दी थी ।

अभी हाल में ही जम्मू पुलिस द्वारा आसाराम बापू के खिलाफ साजिश करने वालों का मुख्य साथी सतीश वाधवानी पुलिस की चपेट में आया। जिसनें षड़यंत्रकारियों के कई राज खोले और अपने साथियों के नाम भी बताये क़ि सन्त आसाराम बापू को फसाने के लिए कौन-कौन षड़यंत्र कर रहा है ।

लेकिन किसी भी मीडिया चैनल ने एक मिनट के लिए भी ये न्यूज़ नही दिखाई और कार्तिक को बापू जी का पक्षदारी बता रही है जबकि अभी तक कोई ऐसा ठोस सबूत हाथ नही लगा है।

आप स्वयं सोचे क़ि अगर मीडिया निष्पक्ष है तो उसने भोलानंद और सतीश वाधवानी द्वारा हुए खुलासे से समाज को क्यों अनभिज्ञ रखा...???

ये संत आसाराम बापू को फ़साने और बदनाम करने में षड़यंत्रकारियों की और विदेशी फंड से चलने वाली मीडिया की मिलीभगत कर रही हैं।

सब जानते है क़ि संत आसाराम बापू ने खुलेआम ‪#‎सोनिया‬ और मिशनरियों को चुनौती दी हुई है।

आज सर्वसाधारण भी ये जानते है की संत आसाराम बापू के साथ सोची समझी साजिश है...

क्योंकि लाखों ‪#‎ईसाई‬ बने ‪#‎हिंदुओं‬ की घरवापसी करवाई संत आसाराम बापू ने..

‪#‎धर्मांतरण‬ में सबसे बड़ी रूकावट बने संत आसाराम बापू...

दारू, सिगरेट आदि करोड़ों लोगो को छुड़ाकर विदेशी कंपनियो का सबसे बड़ा नुकसान करवाने वाले संत आसाराम बापू...

‪#‎हिन्दू_संस्कृति‬ का परचम विश्व में लहराने वाले संत आशारामजी बापू...

ड़ॉ. ‪#‎सुब्रमण्यम‬ 'स्वामी जी ने भी बताया है क़ि संत आसाराम बापू को फ़साने के पीछे सोनिया गाँधी और ईसाई मिशनरियों का पूरा हाथ है। और हाल ही में जम्मू पुलिस द्वारा बापूजी को फ़साने में सिमी संगठन का भी नाम सामने आया है।

खुद ‪#‎IBN7‬ के वरिष्ठ पत्रकार आशुतोष ने भी खुलासा किया क़ि आसाराम बापू केस में झूठी खबरों का बोल बाला हो रहा है केवल और केवल पैसा और TRP के लिए ।

मीडिया द्वारा संत आसाराम बापू को बदनाम करने की कोशिश ने मीडिया पर ही प्रश्नचिन्ह लगा दिया है । उनको पता है की बापूजी बाहर आयेंगे तो हम सभीकी दुकानदारी बंद हो जायेगी।

आज काफी सवाल उठ रहे है सबके मन मस्तिष्क में...
क़ि क्यों मीडिया देश के महत्वपूर्ण मुद्दों को छोड़कर सिर्फ और सिर्फ संत आसाराम बापू को ही हर समय कटघरे में खड़ा कर रही है।

जिन संतों ने महकाया इस धरा को सनातन की खुशबू से आओ उनके साथ हो रहे षड़यंत्र के खिलाफ मिलकर आवाज उठाये आज हम।

देखिये वीडियो

 

Comments

Write a Comment